IPL_2017

IPL 2017 Updates – पुणे सुपर जाइंट्स ने महेन्द्र सिंह धोनी का किया अपमान|

IPL 2017 Updates :

IPL and Controversy are best friends. आई पी एल और विवादों का चोली दामन का साथ है।

आई पी एल शुरु होने से पहले शुरु हो चुका है विवादों का दौर। हाल ही में भारत बनाम ऑस्ट्रेलीया सीरीज़ समाप्त हुई जिसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली और ऑस्ट्रेलीयन कप्तान स्टीव स्मीथ के बीच जम कर छींटाकशी हुई। सीरीज़ के साथ विवाद भी समाप्त हो गया पर अब बारी है आई पी एल की और  आई पी एल हो और विवाद न हो ऐसा हो नहीं सकता। क्योंकी आई पी एल और विवादों का चोली दामन का साथ है।

IPl-Offcial-2017

IPl-Offcial-2017

इस बार विवाद के त्रिकोण में है पुणे सुपर जाइंट्स टीम के मालीक आर पी संजीव गोईंका, पुर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी और पुणे सुपर जाइंट्स के नये कप्तान स्टीव स्मीथ|

विवाद

महेन्द्र सिंह धोनी को पहिले पुणे सुपर जाइंट्स टीम की कप्तानी से हटाया गया और अब उन्हें टीम से हटाने की बात भी सामने आरही है। गौरतलब है कि आई पी एल के पिछले सीजन में केवल 284 रन बनाने वाले धोनी का प्रदर्शन कुछ अच्छा नहीं रहा था और टीम भी कुछ खास प्रदर्शन कर नहीं पाई। इस वजह उन्हें कप्तान पद से हटाया गया। कैप्टन कूल ने इस फैसले के विरोध में अपना मुंह बंद रखा था और कोई विवाद नहीं खडा किया। पर आई पी एल हो और विवाद न हो ऐसा हो नहीं सकता।

टीमों के मालिक के इस रवैये को देख कर भारतीय मिडिया ने इस खबर को बहुत ही संजीदगी से लिया और् इस घटना को महेन्द्र सिंह धोनी का अपमान बता रही है।

पर जिस तरह मिडिया को टी आर पी के लिय सुर्खियां चाहिए उसी तरह आई पी एल टीमों के मालिकों को केवल जीत चाहिए और हमारे देश के महान खिलाडियों का सम्मान इसके सामनें कुछ भी नहीं है।

बताते चलें की कुछ सालों पहले भी इसी तरह का व्यवहार बंग़ाल टाईगर, प्रिंस ऑफ कोलकाता और दादा के नाम से मशहुर सौरव ग़ांगुली के साथ किया गया था जब कोलकाता नाईट राईडर्स के तत्कालीन कोच बुकनन के कहने पर सौरव ग़ांगुली को कप्तानी के पद से हटाया गया और ब्रेंड्न मकेलम को कप्तान बनाया गया था और टीम के मालिक शाहरुख खान ने सौरव ग़ांगुली को कोई भी सपोर्ट नहीं दिया था। पर कोलकाता नाईट राईडर्स को चैम्पियन के जीत का स्वाद अंत मे एक भारतीय कप्तान ने ही चखाया था।

पर बात महेन्द्र सिंह धोनी की करें तो टीम के मालिक और मैनेजर को यह बात भी ध्यान मे रखनी चाहिए कि धोनी न सिर्फ अच्छे बल्लेबाज है बल्कि एक ऐसे विकेट किपर है जिसने अपनी बिजली की फुर्ती वाली तेजी से गेन्द्बाजों के विकेट की फेरहिस्त में इजाफा भी किया है और उनकी कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स ने छ: बार फाईनल तक का सफर किया है।


झारखण्ड इन्फो की रिपोर्ट।

Share This:

Leave a Reply